मंगलवार, जनवरी 01, 2013

पोती का पत्र दादा-दादी के नाम

समीक्षा दादा को चिठ्ठी लिखने में वयस्त 
प्यारे दादा और दादी ,
आप दोनों को नये साल की बहुत बहुत बधाई .यहाँ पर हमसब ने भी नया साल एक दोस्त के घर मनाया .मैं और श्रेया बहुत खेले .
हमलोग आपको  बहुत याद करते हैं .श्रेया को आम चाहिये और मुझे अमरुद चाहिए .आप दोनों यहाँ कब आएँगे ?
मैं तुम दोनों को बहुत प्यार करती हूँ .
आपकी प्यारी पोती,
समीक्षा

पापा की तरफ से:

समीक्षा ने पहली बार हिन्दी में चिठ्ठी लिखी है.उनका हिन्दी ब्लॉग अब तक पापा लिखता रहा है। मुझे बहुत खुशी है कि आज समीक्षा ने हिन्दी में दादा-दादी को चिठ्ठी भी लिखी और उसको अपने ब्लॉग पर भी लिखा। वैसे तो ये 8 साल की हैं लेकिन हिन्दी सीखते अभी 4 महीनें ही हुए हैं .
हाथ की लिखाई में अभी बहुत अभ्यास चाहिए लेकिन प्रारम्भिक लेख के लिए जितना आज लिखा है वो कम नहीं है। आप लोग अपनी टिप्पणियों से इन्हें प्रोत्साहित करते रहें .